पौधे बांट प्रयागराज ने बनाया विश्व रिकार्ड

परेड मैदान पर शुक्रवार को प्रयागराज के खाते में एक और विश्व कीर्तिमान जुड़ गया। यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में 76823 पौधे वितरित किए गए। इसी के साथ योगी ने पूरे सूबे में एक दिन में 24 करोड़ पौधे रोपे जाने की भी घोषणा की। सीएम ने इस दौरान युवाओं का आह्वान किया कि पौधरोपण को जन आंदोलन में बदल दें। बड़ी संख्या में जुटे स्कूली बच्चों के बीच मुख्यमंत्री ने सभी को पौधों को सुरक्षित रखने का संकल्प भी दिलाया। पौध वितरण कार्यक्रम के बाद गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड के प्रतिनिधि ने वर्ल्ड रिकार्ड का प्रमाण पत्र सीएम को सौंपा। पौधा वितरण का कार्यक्रम सुबह सवा आठ बजे ही शुरू हो गया था। इसमें स्कूली बच्चों की बड़ी भागीदारी रही। शहर के अलावा ग्रामीण इलाकों से भी बच्चे कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे। पौधरोपण कार्यक्रम शुरू होने से पहले ही परेड ग्राउंड बच्चाें और शहरियों से भर गया। लोगों के बीच अपनी पसंद के पौधे पाने की होड़ लगी रही। किसी ने एक तो किसी ने पांच-पांच पौधे लिए। शाम करीब 4 बजे सीएम योगी पहुंचे। मुख्यमंत्री ने सबसे पहले पौधरोपण अभियान में लगी टीम को बधाई दी। सीएम ने कहा कि कुंभ के दौरान पूरे विश्व से 24 करोड़ श्रद्धालु आए थे। तब प्रदेश सरकार ने हर श्रद्धालु के नाम एक पौधा लगाने का लक्ष्य रखा था। आज वह लक्ष्य पूरा हुआ। मुख्यमंत्री ने मंच से बताया कि शाम पांच बजे तक 22 करोड़ पौधे रोपे जा चुके हैं। कुछ ही देर में 24 करोड़ का लक्ष्य पूरा होगा।
मुख्यमंत्री योगी ने मंच से इन पौधों के बड़े होने तक सुरक्षित रखने का संकल्प दोहराया। उन्होंने युवाओं से अपील की कि इसे जन आंदोलन बनाने की दिशा में आगे ले जाएं। इसी के साथ परिजनों, प्रियजनों, शहीदों, स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर वाटिका के निर्माण की अपील की। सीएम ने अपने संबोधन में प्रयागराज की महिमा का खूब बखान किया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत कई मंत्री, जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने संगम और बड़े हनुमानजी के दर्शन भी किए। एक घंटे में पांच करोड़ पौधे रोपे गए
24 करोड़ पौधरोपण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सुबह नौ से 10 बजे के बीच पूरे प्रदेश में पांच करोड़ पौधे रोपे गए। यह भी एक रिकार्ड है। इसके अलावा कासगंज में एक लाख एक हजार पौधे रोपे गए और यह भी एक रिकार्ड रहा। कासगंज में अभियान की अगुवाई राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने की। इस तरह से शुक्रवार को प्रदेश में चार विश्व कीर्तिमान बने।
कुंभ के दौरान बने तीन कीर्तिमान

500 शटल बसों का सहसों से नवाबगंज के बीच हुआ था संचालन
6000 से अधिक कलाकारों ने परेड में एक साथ की थी चित्रकारी
10 हजार से अधिक कर्मचारियों ने परेड में चलाया था सफाई अभियान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *