Amayra Women’s Cotton Anarkali Kurti

  • Model (height-5’8″) is wearing size S.
  • Material: Cotton : Color: Blue
  • Neck Type: Round Neck; Sleeve Type: 3/4 Sleeve; Item Length: Calf Long
  • Package Contents: 1 Anarkali Kurti
  • Colour Declaration : There might be slight variation in the actual color of the product due to different screen resolutions.
https://www.amazon.in/Amayra-Womens-Printed-Anarkali-X-Large/dp/B078H9R8QC/ref=as_li_ss_tl?keywords=apparel&qid=1565510351&s=gateway&sr=8-2&linkCode=ll1&tag=bestcelphones-21&linkId=1673e8ddf2e733fe4b43b45ceb37d6e9

खाद्य विभाग ने सेवई व बरफी का भरा नमूना

बिदकी : बकरीद, रक्षा बंधन के त्योहारों पर मिठाई व सेवइयां बिक्री को देखते हुए खाद्य सुरक्षा विभाग सतर्क है। जहानाबाद व बकेवर में छापा मारकर बरफी व सेवई का नमूना भरा। बिदकी में भी मिठाई की दुकानों का निरीक्षण कर ताजी मिठाइयां बिक्री करने के लिए दुकानदारों को सलाह दी।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी सलिल सिंह ने शनिवार को बकेवर कस्बे में मिठाई की दुकानों का निरीक्षण किया। यहां पर हिमांशु की दुकान से सेवई का नमूना भरा। इस कार्रवाई की खबर लगते ही कई दुकानदार दुकानें छोड़कर भाग गए। इसके बाद जहानाबाद में कमल जैन की मिठाई की दुकान से बरफी का नमूना भरा। बिदकी में मिठाई की दुकानों का निरीक्षण दुकानदारों को त्योहरों पर मिठाई बनाकर एकत्र न करने की सलाह दी। कहा जितनी बिक्री हो उतनी मिठाई ताजी बनाएं। खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने कहा मिठाइयों को गरम न पैक करें। मिठाई ठंडी करके ही पैक करें। बासी मिठाई किसी भी दशा में बेचें।

हिंदी न्यूज़ ⁄ उत्तर प्रदेश ⁄ फतेहपुर बकरीद पर चिह्नित 62 स्थानों पर होगी कुर्बानी

RS संवाददाता, फतेहपुर: ऐसा कम ही होता है, जब दो संप्रदायों की धार्मिक भावनाएं एक साथ उमड़ती है, लेकिन इस बार बकरीद और सावन का अंतिम सोमवार एक साथ है। ऐसे में प्रशासन भी चौकन्ना हो गया है, शनिवार को डीएम-एसपी ने कलेक्ट्रेट के गांधी सभागार में पीस-कमेटी की बैठक करके न सिर्फ धार्मिक हदें बतायी बल्कि समन्वय के साथ अपने-अपने त्योहर मनाने की अपील की। शहर के दोनो काजियों ने अपील करते हुए कहा कि बकरीद में प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी न की जाए, और जो कुर्बानी अब तक सार्वजनिक स्थलों पर की जाती रही है इस बार उससे बचा जाए।

बैठक दौरान डीएम ने कहा कि कुर्बानी के लिए प्रशासन ने जिले भर में परंपरागत 62 कुर्बानी स्थलों को चिन्हित किया है। उनमें कोई भी व्यक्ति अपना पशु कुर्बानी के लिए लेकर जाता है तो उसे कुर्बानी कराने का अवसर दिया जाएगा। शहर कारी फरीदउद्दीन कादरी व अब्दुल्लाह शहीदुल इस्लाम ने कहा कि शहर हमेशा से ही मिल जुल का त्यौहार बनाता रहा है। अनेक बार ऐसे अवसर पड़े हैं, जहां जिले की आवाम ने एकता की मिशाल पेश की है। बैठक दौरान बजरंग दल के प्रांत संयोजक बीरेंद्र पांडेय, सत्य भगवान, रवि दुबे, राजेंद्र त्रिवेदी, राधेश्याम हयारण, किशन मेहरोत्रा, मनोज त्रिवेदी, शैलेंद्र शरण सिपल, रिजवान डियर आदि ने समन्वय के साथ धार्मिक पर्व मनाने की बात कही। इस मौके पर एडीएम पप्पू गुप्ता, एएसपी पूजा सिंह, एसडीएम सदर राहुल कश्यप, सीओ सिटी कपिल देव मिश्र समेत अनेक लोग मौजूद रहे।

Top 10 Best Mobile phones-2019

Vivo V15 (Aqua Blue, 6GB RAM, 64GB Storage) with No Cost EMI/Additional Exchange Offers

  • (24 million photosensitive Units) + 8MP + 5MP AI Triple rear camera and 32MP front facing camera
  • 16.59 centimeters (6.53-inch) with 2340 x 1080 pixels resolution
  • Memory, Storage & SIM: 6GB RAM | 64GB storage expandable up to 256GB| Dual SIM with dual standby (4G+4G)
  • Android v9 Pie operating system with MediaTek P70 octa core processor
  • 4000mAH lithium-ion battery
  • 1 year manufacturer warranty for device and 6 months manufacturer warranty for in-box accessories including batteries from the date of purchase
  • Box also includes: Micro USB to USB Cable, Earphone, User Manual, USB Power Adapter, SIM Ejector Pin and Protective Case

पौधे बांट प्रयागराज ने बनाया विश्व रिकार्ड

परेड मैदान पर शुक्रवार को प्रयागराज के खाते में एक और विश्व कीर्तिमान जुड़ गया। यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में 76823 पौधे वितरित किए गए। इसी के साथ योगी ने पूरे सूबे में एक दिन में 24 करोड़ पौधे रोपे जाने की भी घोषणा की। सीएम ने इस दौरान युवाओं का आह्वान किया कि पौधरोपण को जन आंदोलन में बदल दें। बड़ी संख्या में जुटे स्कूली बच्चों के बीच मुख्यमंत्री ने सभी को पौधों को सुरक्षित रखने का संकल्प भी दिलाया। पौध वितरण कार्यक्रम के बाद गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड के प्रतिनिधि ने वर्ल्ड रिकार्ड का प्रमाण पत्र सीएम को सौंपा। पौधा वितरण का कार्यक्रम सुबह सवा आठ बजे ही शुरू हो गया था। इसमें स्कूली बच्चों की बड़ी भागीदारी रही। शहर के अलावा ग्रामीण इलाकों से भी बच्चे कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे। पौधरोपण कार्यक्रम शुरू होने से पहले ही परेड ग्राउंड बच्चाें और शहरियों से भर गया। लोगों के बीच अपनी पसंद के पौधे पाने की होड़ लगी रही। किसी ने एक तो किसी ने पांच-पांच पौधे लिए। शाम करीब 4 बजे सीएम योगी पहुंचे। मुख्यमंत्री ने सबसे पहले पौधरोपण अभियान में लगी टीम को बधाई दी। सीएम ने कहा कि कुंभ के दौरान पूरे विश्व से 24 करोड़ श्रद्धालु आए थे। तब प्रदेश सरकार ने हर श्रद्धालु के नाम एक पौधा लगाने का लक्ष्य रखा था। आज वह लक्ष्य पूरा हुआ। मुख्यमंत्री ने मंच से बताया कि शाम पांच बजे तक 22 करोड़ पौधे रोपे जा चुके हैं। कुछ ही देर में 24 करोड़ का लक्ष्य पूरा होगा।
मुख्यमंत्री योगी ने मंच से इन पौधों के बड़े होने तक सुरक्षित रखने का संकल्प दोहराया। उन्होंने युवाओं से अपील की कि इसे जन आंदोलन बनाने की दिशा में आगे ले जाएं। इसी के साथ परिजनों, प्रियजनों, शहीदों, स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर वाटिका के निर्माण की अपील की। सीएम ने अपने संबोधन में प्रयागराज की महिमा का खूब बखान किया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत कई मंत्री, जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने संगम और बड़े हनुमानजी के दर्शन भी किए। एक घंटे में पांच करोड़ पौधे रोपे गए
24 करोड़ पौधरोपण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सुबह नौ से 10 बजे के बीच पूरे प्रदेश में पांच करोड़ पौधे रोपे गए। यह भी एक रिकार्ड है। इसके अलावा कासगंज में एक लाख एक हजार पौधे रोपे गए और यह भी एक रिकार्ड रहा। कासगंज में अभियान की अगुवाई राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने की। इस तरह से शुक्रवार को प्रदेश में चार विश्व कीर्तिमान बने।
कुंभ के दौरान बने तीन कीर्तिमान

500 शटल बसों का सहसों से नवाबगंज के बीच हुआ था संचालन
6000 से अधिक कलाकारों ने परेड में एक साथ की थी चित्रकारी
10 हजार से अधिक कर्मचारियों ने परेड में चलाया था सफाई अभियान

Fatehpur News: Public toilets are filled with dirt but no one to take care of it

The dream of keeping the city clean by building a public toilet is a mess. Under the Swachh Bharat Mission, 48 toilet and 18 urinals were constructed in the last years, but their use is zero. Due to the dirt, it is difficult to pass from these area.

In order to keep the city clean and prevent open defecation, it was decided to create public toilets and urinals under the Swachh Bharat Mission. At the cost of crores,there are constructed many toilets at many places such as  in front of the city’s Abunagar dak bungalow,Kuchehri, District Hospital, Collectorate Campus, Mahajri, Rediya, Radhanagar, Nai Basti, Garhiva, Turabali, Purva, Mau, Bibihat, Sarai etc.

At the same time urinals were built in many places including Patel Nagar, Railbazar, Purani Tehsil, Roadways Bus Stand, Jayaramnagar, Patthar Kata, Jwalaganj. However, they do not have any arrangement for their cleanliness. Municipal staffs do not clean it. Due to dirt, it is becoming difficult to set foot in them.
Kishan Mehrotra, president of Udyog Vyapar Mandal, says that he has given memorandum to the municipality and district administration several times regarding these problems. Reminded many times but Municipal department is not taking any action.


				

Union Home Minister, Amit Shah reveals his next move after scrapping of 370/35A

BJP after forming new Modi Government 2.0, have taken many crucial decision on various burning issues viz. Tripal Talaq, Scrapping of 370/35A, Amendment of National Medical council etc. Specifically the abrogation of Article 370/35A has completely changed the scenario in Jammu & Kashmir amid the speculation of riot in the Jammu & Kashmir Valley.

After this crucial Decision, Union Home Minister Amit Shah revealed that he will work on long awaited burning issue i.e Ram Mandir as sung in his party manifesto during the parliamentary election of 2014 & 2019.

BCCI agrees to come under NADA, cricketers to undergo doping tests

The BCCI after years of opposition has finally agreed to come under the ambit of the National Anti-Doping Agency (NADA). The BCCI stated in writing that it would adhere to NADA’s anti-doping policy.

The information was shared by Sports Secretary Radheshyam Jhulaniya on August 9 after his meeting with BCCI CEO Rahul Johri. Jhulaniya stated that from henceforth, all cricketers will be tested by NADA. Till now, the BCCI had opposed NADA’s doping tests and the cricketers were kept out of it.

The BCCI had raised three issues before the Sports Ministry regarding its integration with NADA. The issues are as follows:

1. Quality of the dope testing kits

2. Competence of pathologists

3. Sample collection

The Sports Ministry assured the BCCI that the Ministry would be providing whatever facilities the BCCI requires but there will be some charge for it. Sports Secretary Radheshyam Jhulaniya said that the BCCI is no different from others.

Background

The BCCI was earlier strictly against signing up with NADA. The BCCI claimed that it is an autonomous body and not a National Sports Federation and does not rely on government funding.

The Sports Ministry was, however, adamant that the BCCI was no different and that it had to come under the NADA ambit.

The Ministry, had in fact, recently hed up the clearances for the tours by South Africa A and the women’s teams and it was largely speculated that it was done to pressurise the cricketing body into accepting NADA’s anti-doping policy.

President Ram Nath Kovind gives assent to Motor Vehicles (Amendment) Bill

Motor Vehicles Act: President Ram Nath Kovind gave his assent to the Motor Vehicles (Amendment) Act, 2019 on August 9, 2019. The Motor Vehicles (Amendment) Bill, 2019 was passed by the Rajya Sabha on July 31, 2019. The bill was passed in the upper house with three key amendments so it had to be sent back to the Lok Sabha for approval.

The introduced amendments aim to improve road safety and help citizens in their dealings with transport departments. The amendments also aim to strengthen rural transport, public transport and last mile connectivity through automation, computerization and online services.

66th National film awards 2019: Ayushmann Khurrana, Vicky Kaushal share Best Actor, Andhadhun Best Hindi Film